हेल्थ के लिए सिंघाड़े के गुण फायदे

singhade-ke-fayde
singhade-ke-fayde

Singhade ke gun va fayde : पानी में उगने वाले और ठण्ड के मौसम मिलने वाले सिंघाड़े को कहीं कहीं पानीफल के नाम से भी जाना जाता है. English में इसे Chestnut कहा जाता है. भारत के साथ चीन और अमेरिका के कुछ गर्म हिस्सों में भी सिघाड़े की काफी पैदावार होती है. इसका सेवन कई रूपों में किया जाता है जैसे कि कच्चा उबल कर इसका आता बना कर, सब्जी के रूप में और कई जगहों पर इसके छिलकों की सब्जी भी बनायीं जाती है. आयुर्वेद के अनुसार सिंघाड़े में बहुत अधिक मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते है जबकि इसमें कैलोरी कम मात्र में और फट न के बराबर होता है.

Singhade ke Gun fayde : सिंघाड़े के गुण फायदे

singhade ke fayde
singhade ke fayde
  1. सिंघाड़े में जिंक, पोटेशियम, विटामिन b, और विटामिन e काफी मात्र में पाया जाता है.
  2. यह शरीर के लिए प्राकृतिक कूलर का काम करता है अर्थात शिन्घदा शरीर को ठंडक पहुचाता है.
  3. सिंघाड़े में मिनरल जैसे आयोडीन और मैग्नीज काफी मात्रा में पाए जाते है.
  4. यह पालिफेनोलिक और फ्लेवोनोइड, एंटीओक्सिडेंट, एंटीबैक्टिरिअल, एंटीवायरल, एंटीकैंसर से भरपूर होता है.
  5. इसमें सोडियम कम मात्रा में पाया जाता है इसलिए यह ह्रदय के लिए बहुत ही लाभकारी होता है. सिंघाड़े में मौजूद फाइबर पाचन शक्ति को मजबूत बनता है.
  6. इसके सेवन से शरीर को एनर्जी मिलती है और थकान भी दूर होती है.
  7. सिंघाड़े के सेवन से शरीर के हानिकारक तत्त्व बहार निकल जाते है. इससे त्वचा में रौनक आती है और बालों में निखार भी आता है.
  8. सिंघाड़े की 100 ग्राम मात्र में 48.2 ग्राम पानी, 3.4 ग्राम प्रोटीन, .02 ग्राम फैट, 32.1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स, 3.3 ग्राम शुगर, 14.9 ग्राम डाईटरी फाइबर, 17.6 मिग्रा. कैल्सियम,  0.4 मिग्रा. जिंक, 0.7 मिग्रा. आयरन, 0.8 सोडियम पाया जाता है.

वजन बढ़ाता है :  सिंघाड़े में पानी की मात्रा सर्वाधिक होती है और सिंघाड़े में मौजूद फाइबर पाचन शक्ति को बढ़ता है जिससे वजन बढ़ने की संभावना अच्छी हो जाती. सिंघाड़े के  आटे की की रोटी सप्ताह में 2-3 बार जरूर खाए.

खून को बढाता है : सिंघाड़े में आयरन की मात्र अधिक होने के कारण यह शारीर में खून को बढ़ाने के साथ साथ शारीरिक कमजोरी को भी दूर करता है .

दस्त रोकने में सहायक : सिंघाड़ा के प्रवत्ति ठंडी व आटा मोटे अनाज में आता है जो दस्त को रोकने में सहायक होता है. और पेट के लिए बहुत ही लाभकारी है.

गर्भवती महिलाओ के लिए लाभकारी : सिंघाड़े में पप्रोटीन, मिनरल, आयरन और पानी की अधिक मात्र होने के कारण यह एक प्रकार से हेल्थी डाइट की श्रेणी में आता है जो की गर्भवती स्त्रियों के लिए बहुत लाभकारी है.

यदि आपका वजन कम है और इसे बढ़ाना चाहते है तो वजन बढ़ाने में Singhare ke fayde जानने के बाद आप लोग इसका प्रयोग कर के देखे. बाजार में सिघाड़े का आटा, कूटू के आटे के नाम से भी मिलता है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*