Kapur ke fayde in Hindi : कपूर के औषधीय गुण, प्रयोग एवं फायदे

kapoor ke fayde
kapoor ke fayde

Kapur ke fayde in Hindi : कपूर को इंग्लिश में camphor कहते है. हमारे देश में कपूर का प्रयोग पूजन सामग्री के रूप में अधिक उपयोगी माना गया है, परन्तु कपूर एक बहुत ही शक्तिशाली औषधि है. कपूर के औषधि गुण बहुत ही फायदे मंद है. आज इस health tips in hindi में जानते है कपूर के फायदों के बारे में.

Kapur ke fayde in Hindi : कपूर के औषधीय गुण प्रयोग एवं फायदे 

kapur ke fayde
kapur ke fayde

आम तौर पर औषधि के रूप में कपूर का प्रयोग ठन्डे तेल, कास्मटिक इत्यादि उत्पाद बनाने में किया जाता है. लेकिन कपूर इससे भी अधिक शक्तिशाली औषधि गुणों के परिपूर्ण है. जहाँ कपूर को जलाने से वायुमंडल की शुद्धि होती है वहीँ वायुमंडल में मौजूद हानिकारक संक्रामक बैक्टीरिया भी नष्ट हो जाती है.

  • त्वचा के लिए कपूर का प्रयोग लाभकारी होता है। चेहरे पर होने वाले मुंहासे या फिर चर्म रोग से सम्बंधित कोई भी रोग जैसे दाद, खाज, खुजली इत्यादि में  थोडा से कपूर को नारियल तेल में मिलाकर मसाज करने से आराम मिलता है. Skin care tips in hindi.
  • सर दर्द या फिर मानसिक तनाव की अवस्था में कपूर के तेल से मालिश करने से मानसिक रूप से होने वाले तनाव में रहत मिलती है.
  • बालों की समस्या जैसे बालों का झड़ना, रुसी इत्यादि में भी कपूर का तेल बहुत ही लाभ दायक है. कपूर को नारियल के तेल में मिला कर हलके हाथों से मसाज करने से बालों का झड़ना और रुसी ख़त्म हो जाती है.
  • शारीर के किसी भी भाग का आग से जल जाने पर या फिर शारीर के किसी भी भाग में होने वाली जलन को रोकने के लिए कपूर का तेल लगाने से तुरंत आराम मिल जाता है.
  • फटी एड़ियों के लिए भी कपूर भी फायदेमंद है. गुनगुने पानी में कपूर को घोल ले और उस पानी में थोड़ी देर पैर डाले रखे. या फिर नारियल के तेल में कपूर को मिला ले और फटी हुई एड़ियों में क्रीम की तरह लगाये बहुत जल्द आराम मिलेगा.
  • सर्दियों में कपूर का संतुलित मात्रा में सेवन करने से खांसी में आराम मिलता है और कफ का शमन करता है
  • ह्रदय को मजबूती देने तथा श्वेत रक्त कण (WBC) को बढ़ने के लिए कपूर, अजवाइन सत तथा पिपरमिंट के योग से अमृतधारा जैसी जीवन रक्षक औषधीय तैयार की जाती है जो उलटी, दस्त, हैजा, अपच आदि रोगों में बड़ी फायदेमंद होती है.

स्वांस की बदबू में कपूर के फायदे : Kapur ke Fayde

यदि मुख से दुर्गन्ध आती हो तो 2 दाने शीतलचीनी, 2 ग्राम सुहागा और आधा ग्राम कपूर को पीस कर गोली बना लें और मुख में रख कर चुसे इससे श्वांस में ताजगी बनी रहती है और मुख की दुर्गन्ध भी दूर हो जाती है.

स्वप्नदोष और शुक्रमेह में कपूर के फायदे : Kapoor ke Fayde

यदि आप स्वप्नदोष या फिर शुक्रमेह यानि की धातु का गिरना जैसे रोग से ग्रसित है तो आधा ग्राम कपूर और 1 ग्राम अजवाइन चूर्ण रात को सोते समय सेवन करने से  स्वप्नदोष और शुक्रमेह में लाभ होता है.

सुजाक, मुत्रक एवं मुत्रघात में कपूर के फायदे : Kapoor ke Fayde

इन रोगों में आप चिकित्सक से सलाह ले. आप अलग से प्रतिदिन आधा ग्राम कपूर का सेवन करे अतरिक्त लाभ मिलेगा.

उन्मांद रोग में कपूर के फायदे : Kapoor ke Fayde

प्रसूति के पश्चात या अन्य कारणों से पागलपन में आधा ग्राम कपूर को सारस्वतारिष्ट के साथ नियमित सेवन करने से उन्माद रोग में लाभ मिलता है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*